March 3, 2024
loctus pose

loctus pose

locust pose yoga : शरीर और मन के लिए लाभदायक

locust pose yoga एक प्राचीन भारतीय पद्धति है जो शरीर, मन, और आत्मा के लिए संतुलन और स्वास्थ्य प्रदान करती है। योग के अनेक आसन हैं जो हमें शारीरिक, मानसिक, और आध्यात्मिक रूप से सुदृढ़ और संतुलित बनाते हैं। इनमें से एक महत्वपूर्ण आसन है “locust pose” जो हमारे शरीर और मन के लिए अनेक लाभ प्रदान करता है।

locust pose को संस्कृत में “शलभासन” कहा जाता है,और इसे टिड्डी आसन भी कहा जाता है। यह आसन पूरे शरीर को लचीला बनाता है और पृष्ठ, कमर, पेट, और पांवों की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। इसका नाम टिड्डी आसन इसलिए है क्योंकि इसमें शरीर को टिड्डी के तरह उठाया जाता है।

locust pose कैसे करें:

  1. पहले एक योग चट्टी पर लेट जाएं।
  2. अब अपने पेट को फ्लोर पर सीधा और साधे रखें।
  3. सांस लेते हुए, आपके चेहरे को फ्लोर की तरफ मोड़ें और अपने हाथों को शरीर के निचे की तरफ रखें।
  4. अब धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए अपने पेट को फ्लोर से उठाएं और अपने ऊपरी शरीर को भूमि पर आधारित करें।
  5. अब अपने पैरों को ऊपर की ओर उठाएं और अपने वातानुसार संतुलित रहें।
  6. इस स्थिति में कुछ समय के लिए रहें और फिर धीरे-धीरे अपने पैरों को नीचे लाएं।
  7. संधियों को नुकीले या दर्दनाक चिल्लाहट या दर्द की अनुभूति होने पर तुरंत आसन को छोड़ दें।

locust pose के लाभ:

  1. मांसपेशियों को मजबूत करता है: locust pose मुख्य रूप से पृष्ठ, कमर, और पांवों की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है।
  2. कमर दर्द को दूर करता है: यह आसन कमर के दर्द को कम करने में सहायक होता है और इसे दूर करता है।
  3. वजन घटाने में मददगार: locust pose आंतरिक ऊर्जा को बढ़ाता है और वजन घटाने में मदद करता है।
  4. ध्यान को शांति प्रदान करता है: इस आसन में ध्यान लगाने से मानसिक चिंताओं को दूर किया जा सकता है और मन को शांति प्रदान की जा सकती है।

locust pose 1:आपको पेट को योगा मॅट पर रखकर पीठ को ऊपर उठाना होता है, जिससे आपकी जांघें ऊपर उठती हैं।हाथों को शरीर के निचे रखते हुये एक पैर को उपर उठाएं।

locust pose 2: आपको अपनी पीठ को और ऊँचा उठाना होता है, जिससे आपकी पेट का भार अधिक होता है। अपने एक हाथ को आगे की तरफ सिधा करे और एक पैर को उपर उठाएं। अपने एक हाथ को पीछे की तरफ कमर पर रखे।

सावधानियाँ:

  1. इस आसन को करते समय सही तरीके से सांस लेना अत्यंत महत्वपूर्ण है।
  2. किसी भी समय अधिक दबाव का अनुभव होने पर आसन को तुरंत छोड़ दें।
  3. पूरे आसन के दौरान शरीर को संतुलित रखने का प्रयास करें।

योगा करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

निष्कर्ष:

locust pose एक उत्तम योगासन है जो हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ाने में मदद करता है। इसे नियमित रूप से प्राक्टिस करने से हम अपने शरीर को सुडौल और मजबू

त बना सकते हैं। ध्यान रखें कि हर किसी के शरीर की क्षमता और लक्ष्य अलग होते हैं, इसलिए शुरुआती स्तर से ही शुरू करें और धीरे-धीरे आगे बढ़ें। योग का नियमित अभ्यास करने से हमारे जीवन का हर क्षेत्र सुधार जाता है और हम एक स्वस्थ, संतुलित, और खुशहाल जीवन जी सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *