Benifits of padhastasana

PADHASTASANA BENIFITS (1)

पादहस्तासन को अंग्रेजी में हैंड टू फुट पोज (hand to foot pose) कहते हैं। रीढ़ हमारे शारीरिक स्वास्थ्य में सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। एक मजबूत और लचीली रीढ़ हमें आसानी से चलने या कोई भी हरकत करने की अनुमति देती है। उसके लिए नियमित रूप से पादहस्तासन (Benifits of padhastasana) करना जरूरी … Read more

Padhastasana benifits

padahastasana 2 (1)

पादहस्तासनालाच इंग्लिश मध्ये hand to foot pose म्हणतात . आपल्या शारीरिक आरोग्यात महत्वाच्या काही अवयवांमध्ये पाठीचा कणा हा महत्वाचा आहे. मजबूत व लवचिक पाठीच्या कण्यामुळे आपण चालू शकतो किवा सहज कुठलीही हालचाल करू शकतो. त्यासाठी पादहस्तासन  नियमित करणे गरजेचे आहे. तर मी या लेखात तुम्हाला पादहस्तासन  योग म्हणजे काय ?,पादहस्तासन योगाचे फायदे Padhastasana benifits , … Read more

Uttanasana pose

UTTASANA POSE (1)

पूरे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए भारतीय ऋषियों ने योग शास्त्र में कुछ योग मुद्राएं और प्राणायाम बताए हैं। योग शास्त्र में शरीर पर विचार करते समय न केवल योग बल्कि प्राणायाम के लाभों का भी उल्लेख किया गया है। इसलिए इस लेख में मैं आपको बताऊंगी कि उत्तानासन मुद्रा (Uttanasana pose) क्या है? … Read more

उत्तानासन

भारतीय ऋषीमुनींनी योगशास्त्रात संपूर्ण शरीर निरोगी ठेवण्यासाठी काही योगासने आणि प्राणायाम सांगितले आहे. योगशास्त्रात शरीराचा विचार करता योगासनेच नव्हे तर प्राणायाम करण्याचे देखील फायदे सांगितले आहे. म्हणूनच या लेखात मी तुम्हाला उत्तानासन म्हणजे काय? ,उत्तानासनाचे फायदे आणि उत्तानासन करताना घ्यावयाची काळजी याबद्दलची माहिती  सांगणार आहे. उत्तानासन हे हठयोग शैलीतील आसन आहे ते करण्यास मध्यम प्रमाणात … Read more

utkatasana in hindi

utkatasana 6

उत्कटासन क्या है? उत्कटासन (utkatasana in hindi) मै उत्कटासन के फायदे और करणे के तरिके बातये गये है| जिसे आमतौर पर “कुर्सी मुद्रा” कहा जाता है, एक बुनियादी योग मुद्रा है जो जांघों और नितंबों को मजबूत करती है। यह पेट की मांसपेशियों को टोन करता है और संतुलन में सुधार करता है। उत्कटासन मुद्रा … Read more

उत्कटासन

utkatasana 4

उत्कटासन म्हणजे काय? उत्कटासन, ज्याला सहसा “चेअर पोज” म्हणतात, ही एक मूलभूत योग मुद्रा आहे जी मांड्या आणि नितंबांना बळकट करते. हे पोटाच्या स्नायूंना टोन करते आणि संतुलन सुधारते. पोझचे नाव संस्कृत शब्द उत्कट, ज्याचा अर्थ “उग्र” असा आहे. या आसनाचा जास्तीत जास्त फायदा घेण्यासाठी, योग्य संरेखनावर लक्ष केंद्रित करणे महत्वाचे आहे. उत्कटासन करण्याचा योग्य … Read more

वीरभद्रासन कैसे करे?

VIRBHADRASANA 4

भारत में कई वर्षों से योगासनों का प्रचार और प्रसार किया जाता रहा है। योग की कला का विकास सबसे पहले भारत में हुआ था। अतीत में, महान योग चिकित्सकों, महान योगी पुरुषों ने प्रकृति के आधार पर, धार्मिक कहानियों के पात्रों के साथ-साथ सृष्टि में विभिन्न चीजों के आधार पर योग बनाया। इसमें महान … Read more

अर्ध चंद्रासन मुद्रा कैसे करे ?

HALF MOON POSE 1

अर्ध चंद्रासन (half moon pose) अर्ध चंद्रासन मुद्रा, या अर्ध चंद्र मुद्रा, एक योग मुद्रा है जो पैरों, नितंबों और पेट की मांसपेशियों को फैलाती है और मजबूत करती है। यह संतुलन और फोकस में भी सुधार करता है। यह आसन सभी कौशल स्तरों के लोगों द्वारा किया जा सकता है और यह अपना दिन … Read more

अर्ध चंद्रासन पोझ

ARDHA CHANDRASANA POSE 2

अर्ध चंद्रासन पोझ अर्ध चंद्रासन पोझ , किंवा अर्ध चंद्र मुद्रा, ही एक योग मुद्रा आहे जी पाय, नितंब आणि पोटातील स्नायूंना ताणते आणि मजबूत करते. हे संतुलन आणि फोकस देखील सुधारते. ही मुद्रा सर्व कौशल्य स्तरावरील लोकांद्वारे सादर केली जाऊ शकते आणि आपला दिवस सुरू करण्याचा किंवा योगासन समाप्त करण्याचा हा एक चांगला मार्ग … Read more

ताडासन योग : करने का सही तरिका

TADASANA IN HINDI

ताड़ासन योग मुद्रा एक बुनियादी स्थिति है जिसे अष्टांग योग कक्षाओं में पाया जा सकता है। अधिकांश लोग ताड़ासन नामक मुद्रा को “पर्वत (mountain pose) मुद्रा” कहते हैं। ताडासन योग : करने का सही तरिका आगे इस मुद्रा में, आप अपने पैरों को नितंबों को चौड़ा करके और अपने हाथों को अपनी तरफ करके खड़े … Read more